“पिंजरे में ‘टाइगर’ !” सलमान खान को हुई 5 साल की जेल की सजा और 10 लाख रूपये का जुर्माना, सैफ अली खान सहित अन्य अभिनेता बरी


“पिंजरे में ‘टाइगर’ !” सलमान खान को हुई 5 साल की जेल की सजा और 10 लाख रूपये का जुर्माना, सैफ अली खान सहित अन्य अभिनेता बरी

सलमान खान को 5 साल की जेल की सजा सुनाई गई, 10 लाख रूपये का जुर्माना, सैफ अली खान और अन्य अभिनेताओं से बरी

Advertisement :

क्या है मामला

एक बॉलीवुड फिल्म की शूटिंग के दौरान किये गए इस जुर्म के लिए अभिनेता सलमान खान को सितंबर 1998 में दो ब्लैकबक्स की हत्या का दोषी ठहराया गया था। अन्य अभिनेता और सह-आरोपी सोनाली बेंद्रे, सैफ अली खान, तब्बू और नीलम कोठारी को बरी कर दिया गया। सजा का क्वांटम जल्द ही घोषित किया जाएगा।

बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान जोधपुर में ब्लैकबैक शिकार मामले पर आरोपों पर सुनवाई के लिए बुधवार की रात को अदालत में आए थे।
जोधपुर अदालत ने गुरुवार को सलमान खान को दो ब्लैकबक्स, एक लुप्तप्राय मृग की हत्या के लिए पांच साल जेल की सजा सुनाई, इस 20 वर्ष पुराने शिकार मामले में, इस फैसले से अभिनेता पर 500 करोड़ रु दाव पर लग गए ।

Advertisement :

गुरुवार की रात जोधपुर सेंट्रल जेल में बिताएंगे

अभिनेता को ब्लैकबक्स को मारने और वन्यजीव संरक्षण अधिनियम का उल्लंघन(blackbucks and violating the wildlife protection act) करने के लिए दोषी पाया गया था। वह रात जोधपुर सेंट्रल जेल में बिताएंगे।
अभियोजन पक्ष के वकील महिपाल बिश्नोई ने अदालत के बाहर मीडियाकर्मियों को बताया, “उनके नाम पर एक वारंट(warrant) जारी किया गया है और उन्हें केंद्रीय जेल(central jail) भेज दिया जाएगा।”
सलमान की एक झलक देखने के लिए इकट्ठे हुए भीड़ को नियंत्रित करने के लिए दंगा पुलिस(riot police) पर बड़ी संख्या में छतरियों पर स्निपर्स(Snipers) तैनात थे, जो एक काले शर्ट पहने हुए थे, अदालत में जींस और धूप का चश्मा एक जोड़ी पहने हुए थे ।
1 अक्टूबर 1998 को अभिनेता ने कंकानी गांव में पशुओं को मार डाला, ये सब फिल्म “हम साथ साथ हैं।’ की शूटिंग(shooting) के दौरान हुआ।

इस फैसले के बारे में क्या कहना है फिल्म इंडस्ट्री(Film Industry) का

फैसले ने फिल्म उद्योग को दंग कर दिया, जिसमें कई सहयोगियों ने कहा कि अभिनेता को दंडित किया गया क्योंकि वह सफल स्टार थे।
राजस्थान सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय में चिंकारा शिकार के दो मामलों में अभिनेता को निर्दोष बताते हुए चुनौती दी है। ब्लैकबक्स को लक्षित करने से पहले अभिनेता ने कथित रूप से कुछ दिनों पहले ही गेजल्स(gazelles) को गोली मार दी थी।
52 वर्षीय अभिनेता सत्र न्यायालय में फैसले को चुनौती(challenge) देने की योजना बना रहा है, जो शुक्रवार को उनकी जमानत याचिका(bail plea) सुनेंगे।

मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट(Chief judicial magistrate) देव कुमार खत्री ने साथी अभिनेताओं और सह-आरोपी सैफ अली खान, सोनाली बेंद्रे, तब्बू और नीलम को बरी कर दिया, उन्हें इस मामले में संदेह का लाभ मिला जिससे इसने शामिल हस्तियों की वजह से बहुत रुचि पैदा कर दी है।
इस फैसले को लेकर समुदाय में ख़ुशी की लहर दौड़ गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *