प्रकृति के वरदान के रूप में इस गांव में लेती है बेटियां जन्म

A village in Rajsamand, Rajasthan

A village in Rajsamand, Rajasthan न्यूज़ रिपोर्ट के अनुसार उदयपुरसंभाग का पिपलांत्री पंचायतीराज अपनी हाई टेक अप्रोच के लिए खास जगह रखता है। वहां बेटी पैदा होने पर गांव में 108 पौधे लगाने का रिवाज है। पंचायत की तरफ से 21 हजार(Thousand)रुपए की राशि का फिक्स डिपॉजिट लड़की के नाम करवाया जाता है। यही नहीं गांव(village)के वॉटर हार्वेस्टिंग

A village in Rajsamand, Rajasthan

Advertisement :

सिस्टम ने देश को ही नहीं बल्कि विदेशों को भी इंस्पायर िकया है। यही वजह है डेनमार्क के प्राइमरी और मिडिल स्कूल में पिपलांत्री की केस स्टडी को पढ़ाया जाएगा। इस प्रोजेक्ट के लिए डेनमार्क मास मीडिया यूनिवर्सिटी की दो स्टूडेंट्स क्रिस्टीन और रेक्की ने 10 से 12 मिनट की

A village in Rajsamand, Rajasthan

डॉक्यूमेंट्री बनाई है। इसके लिए दोनों ने 12 दिनों तक पिपलांत्री में शूट किया है 110प्रोजेक्ट में हुआ सलैक्ट : क्रिस्टीनऔर रेक्की कहती हैं कि हमारी यूनिवर्सिटी की ओर से पिपलांत्री पर प्रोजेक्ट को सब्मिट किया गया था। यह सरकार की तरफ से शॉर्ट लिस्ट किए गए 110 प्रोजेक्ट्स में से टॉप टेन में शामिल हुआ। भारत पर दो प्रोजेक्ट का चयन हुआ है। इसके लिए दो टीमें भारत आई हैं।

Advertisement :

A village in Rajsamand, Rajasthan

एक टीम साउथ इंडिया की तलवारबाजी सिखाने वाले स्कूल पर डॉक्यूमेंट्री तैयार कर रही है। दूसरा प्रोजेक्ट राजस्थान(Rajasthan)के राजसमंद के पिपलांत्री गांव पर है। हमने हमारी डॉक्यूमेंट्री की थीम गर्ल्स राइट्स रखी है। इस केस स्टडी को डेनमार्क के प्राइमरी और मिडिल स्कूल में पढ़ाया जाएगा और इस पर एग्जाम भी कडंक्ट करवाया जाएगा पिपलांत्री गांव की सबसे खास बात है कि गांव में बेटी पैदा होने पर 108 पौधे लगाए जाते हैं। इस बारे में वहां के पूर्व सरपंच श्याम सुंदर

A village in Rajsamand, Rajasthan

बताते हैं, ये पौधे एलोवेरा और आंवला के होते हैं। इससे इनका कॉमर्शियल इस्तेमाल होता है और आय से गांव का विकास किया जाता है। दूसरी बड़ी योजना है कि बेटी के नाम पंचायत की ओर से 21हजार रुपए का फिक्स डिपॉजिट करवाया जाता है। बेटी 18 साल की होने के बाद इस रकम को अपने कॅरिअर के लिए इस्तेमाल कर सकती है उदयपुरसंभाग का पिपलांत्री पंचायतीराज अपनी हाई टेक अप्रोच के लिए खास जगह रखता है। वहां बेटी पैदा होने पर गांव में 108 पौधे लगाने का रिवाज है। पंचायत की तरफ से 21 हजार रुपए(Thousand rupees)की राशि का फिक्स डिपॉजिट लड़की के नाम करवाया जाता है। यही नहीं गांव के वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम ने देश को ही नहीं

A village in Rajsamand, Rajasthan

बल्कि विदेशों को भी इंस्पायर िकया है। यही वजह है डेनमार्क A village in Rajsamand, Rajasthan plants 111 trees on each baby girl born   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *