ऑटो मेशन छीन लेगा 20 करोड़ नौकरियां पई

ऑटो मेशन छीन लेगा 20 करोड़ नौकरियां पई

इंडस्ट्री एक्सपर्ट मोहन दास पई ने आशंका जताई कि ऑटो मेशन और टेक्नोलॉजी की स्वीकार्यता तीव्र गति से बढऩे के चलते अगले नाइन इयर्स सालों में करीब 20 करोड़ युवाओं की नौकरियां छीन जाएंगी।




नई दिल्ली. इंडस्ट्री एक्स पर्ट मोहन दास पई ने आशंका जताई कि ऑटो मेशन और टेक्नोलॉजी की स्वीकार्यता तीव्र गति से बढऩे के चलते अगले 9 सालों में करीब 20 करोड़ युवाओं की नौकरियां छीन जाएंगी। उनके मुताबिक, ‘इनमें से ज्यादातर युवा 21 से 41 इयर्स तक की age के होंगे। बैंकिंग और नॉन बैंकिंग फाइनेंस सेक्टर पर भी इसका बड़ा असर पडऩे की आशंका है, क्योंकि इनके ज्यादातर काम करने में रोबोट सक्षम हैं। कृषि क्षेत्र से रोजगार पाने वालों की संख्या महज 52 फीसदी रह गई है, जो 10 ईयर पहले 62 फीसदी थी। वहीं सर्विस sector और उभरते उद्योगों पर निर्भर रहने वालों की संख्या 10 फीसदी तक तेजी है। कृषि और सेवा क्षेत्र के बीच खाई बढ़ती जा रही है।’




‘क्रिएटिव पीपुल को खतरा नहीं’

पई ने कहा, ‘रोबोट इंसानों को रिप्लेस कर रहे हैं। दर असल, रोबोट ना तो अप्रैजल, प्रमोशन या इंक्रीमेंट मांगते हैं, ना ही उन्हें work करने में थकान होती है। इसके अलावा उन्हें छुट्टी और वर्क-लाइफ बैलेंस जैसी जरूरतें भी नहीं होती है। ऐसे में ज्यादातर कंपनियां इस दिशा में कदम बढ़ाएंगी।’ हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि मशीनें क्रिए टिव नहीं हैं, ऐसे में जिन लोगों के पास क्रिए टिव स्किल्स हैं उन्हें खतरा कम होता है।

One thought on “ऑटो मेशन छीन लेगा 20 करोड़ नौकरियां पई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *